रविवार, 10 मई 2009

माँ सदा रहना मेरे साथ

सभी मांओ को मातृदिवश पर मेरा नमन

माँ तुम मेरे पुकारने से पहले ही, होती हो सदा मेरे पास।

क्योंकि तुम कठिन समय में , बन जाती हो मेरा विश्वास।
क्योंकि तुम ही समझती हो मुझे, जब खुद समझ नहीं आती अपने दिल की बात।
इसलिए जरूरी है बहुत जरूरी है, माँ मेरे लिए तुम्हारा साथ।


10 टिप्‍पणियां:

  1. सच है... माँ की बिना कही मन नहीं लगता... और फिर मैं तो आपकी माँ के प्यार से परचित हूँ... she is the perfect mother.

    उत्तर देंहटाएं
  2. सच कहा........माँ तो बिन बताये ही सब समझ जाती है..........माँ ममतामयी होता है, माँ की याद तो हर पल आती है...........

    उत्तर देंहटाएं
  3. agar bhagvan hai es duniya me to vo maa hai.aap ne maa ko kendra me rakh ker jo kavita likhi hai us ke liye aap ka sukriya...aaj se hum aap ke fan ....

    chandrapal
    mumbai
    advertise@timesmedia.co.in

    उत्तर देंहटाएं
  4. मां जीवन है, उमंग, उत्साह, अहसास, अपनत्व, शुरूआत और अंत भी मां ही है। सिर्फ मां।
    कविता बहुत अच्छी लिखी है निहारिका। सोच और अच्छी समझ के साथ तुम्हारी संवेदनाएं महसूस करने की क्षमता बेहतर है। इसे जारी रखो।

    उत्तर देंहटाएं
  5. माँ तुझे सलाम ...आज तेरे कारण ही हमारा अस्तित्व है..तुने ही हमे जीने के काबिल बनाया...

    उत्तर देंहटाएं
  6. Aapki ye "nanhee-see" lekin, phirbee behad badee rachna padhi to ek betee, aur ek maa , dono ki haisiyatse aapko mere blogs pe aamantrit kar rahee hun...
    "
    http//latitlekh.blogspot.com

    http//shamasansmaran.blogspot.com

    http//kavitasbyshama.blogspot.com

    http//aajtakyahantak-thelightbyalonelypath.blogspot

    ye mere 13 blogs me chand hain, jinhen shayad aap padhna pasand karen..

    Filhaa," maa, pyaree maa", ye maalika likh rahee hun..sansmaran aur lalitlekh dono pe hai..

    "Aankhen thak naa jayen", "ja ud jaare panchhee", aur "Royeen aankhe magar",ye sansmaran aapko yaqeenan achhe lagenge!

    http//baagwaanee-thelightbyalonepath.blogspot.com

    ye blogbhee, kewal baagwaanee ke baareme nahee...usse judee, badee komal yaaden hain..

    "Paridhaan," "Dharohar"," fiberaart","chindi", gruhsajjaaa"...adi blog bhee aapko achhe lag sakte hain...
    Dua karungee,ki, aap jaisee betee har maa kaa naseeb ho...jo apnee maa ko is shiddat ke saath yaad kare..!
    snehsahit
    shama

    उत्तर देंहटाएं
  7. बहुत कोमल भावनाएं माँ के प्रति..बधाई!!!!!!! मैंने भी माँ के लिए एक कविता लिखी है आपका स्वागत है मेरे ब्लॉग पे...

    उत्तर देंहटाएं
  8. Labon Per Uske Kabhu Baddua Nahi Hoti...Ek Maa Hai Jo Kabhi Khafa Nahi Hota...

    उत्तर देंहटाएं
  9. मां के प्रति इमोशन अच्‍छा है, लेकिन इसे और अच्‍छे शब्‍दों में व्‍यक्‍त किया जा सकता था.

    उत्तर देंहटाएं